हौले-हौले,होली-होली

हौले-हौले,होली-होली

हौले-हौले,होली-होली। आओ खेलें,खोली-खोली।। टीला-टीला, टोली-टोली। लगा ठहाके,करो ठिठोली।। ना गुब्बारे, ना बढ़ बोली। ना खाएंगे भांग की गोली।। जैविक रंग … Continue reading हौले-हौले,होली-होली

“मौन मुखर” में मेरा यात्रावृतांत

“मौन मुखर” में मेरा यात्रावृतांत

मेरा यात्रा वृतांत ” कोलकाता कार्यालय में एक दिन” हिंदी की प्रमुख त्रैमासिक पत्रिका “मौन मुखर” ने अपने जनवरी-मार्च 2019 … Continue reading “मौन मुखर” में मेरा यात्रावृतांत